जबलपुर। गृह सह. समिति पिपरियकला शहपुरा में गंभीर अनियमितताएं गबन-घोटाले को लेकर मध्य भारत मोर्चा के सदस्यों द्वारा हाल ही में ज्ञापन व शिकायत की गई थी। जिसमें समिति पिपरियकला प्रभारी प्रबंधक आशीष तिवारी और नितिन मेहरा द्वारा किये गए भ्रष्टाचार को लेकर साक्षो के साथ इनकी बर्खास्तगी की मांग मोर्चा द्वारा की गई।
आशीष मिश्रा ने बताया कि पिपरियकला अंतर्गत एक निजी वेअरहाउस में समिति प्रबंधक आशीष तिवारी द्वारा गेंहू से भरी 3,600 बोरियों का गवन किया गया है। जिसमे जिला प्रशासन द्वारा पूर्व में भी इनके ऊपर भ्रष्टाचार को लेकर आरोप लगे थे, जिसमें इनको दोषी पाया गया था। उसके बाबजूद भी न ये निलंबित हुए और न ही कोई प्रकरण कायम किया गया, और अभी वर्तमान में उक्त अधिकारी द्वारा गेहू खरीदी में लगभग 50 लाख रुपये की हेरा फेरी की गई है। जिसमे प्रशासन द्वारा इनको सिल्क जमा करने कहा गया था। फिर भी इन्होंने जमा नही की जिसके साक्ष्य मोर्चा ने प्रशासन को ज्ञापन के साथ प्रस्तुत किये थे, और अधिकारी पर करवाही करते हुए बर्खास्तगी की मांग की थी। लेकिन अभी तक ऐसे भ्रष्ट अधिकारी पर कोई करवाही नही की गई।

administrator, bbp_keymaster

Related Articles