जबलपुर। घमापुर स्तिथ बाई का बगीचा में भारतीय जनता पार्टी द्वारा समरसता यात्रा जन संवाद कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा था। जिसमे जनता को संबोधित करने प्रदेश के मुखिया मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान का आगमन होना था। वही कांचघर चौक में ज़िला अध्यक्ष जितिन राज के निर्देश में अचलनाथ चौधरी व प्रवीण चौधरी के नेतृत्व में युवा कांग्रेसीयो के द्वारा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को काले झंडे दिखाने की कोशिश की जा रही थी, लेकिन उससे पूर्व ही कांचघर चौक पर तैनात भारी पुलिस बल के द्वारा युवा कांग्रेसियों को चौराहे पर ही पकड़ लिया। इस दौरान युवा कांग्रेसियों ने जमकर नारेबाजी की वहीं पुलिस और युवा कांग्रेसियों की इस दौरान हल्की झड़प देखने को मिली। पुलिस ने 10 युवा कांग्रेसी कार्यकर्ताओ को हिरासत में लेते हुए उन्हें नजर बंद कर दिया।
युवा कांग्रेसी नेता अंचलनाथ चौधरी ने कहा की एक तरफ पूरे प्रदेश में दलितों के ऊपर अत्याचार हो रहा है, और सीएम मौन है। दूसरी तरफ संत रविदास महाराज की समरसता यात्रा निकाली जा रही है। युवा कांग्रेसी नेता ने कहा कि वह सभी संत रविदास महाराज के अनुनायी है, लेकिन जिस प्रकार से इस यात्रा में दलित वर्ग को अलग रखा गया। उससे साफ पता चलता है की प्रदेश सरकार दलित विरोधी है, जिसका पुरजोर विरोध युवा कांग्रेसी करते है। जिसमें अचल नाथ, प्रवीण, रवि सैलानी, नितिन चितकर, बच्चा यादव, राजेश केशरवानी, अमित, सोनू समुंदरे, विनोद विनोदिया आदि युवा कांग्रेसी उपस्थित रहें।

administrator, bbp_keymaster

Related Articles