डिंडौरी:- अमृत महोत्सव में जागरूक करने के आयोजित हुई विभिन्न प्रतियोगिताएं….

डिंडौरी:- अमृत महोत्सव में  जागरूक करने के आयोजित हुई विभिन्न प्रतियोगिताएं….

(रामसहाय मर्दन)डिंडौरी| मेकलसूता महाविद्यालय में इन दिनों आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है। स्वाधीनता के अमृत महोत्सव में सभी अज्ञात- अज्ञात स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को याद किया जा रहा है। देश को स्वाधीन कराने में अनेक व्यक्तियों ने अपने जीवन की कुर्बानियां दी हैं उन सभी को हम आजादी के 75 वर्ष पर याद करते हुए विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से छात्र-छात्राओं एवं युवा पीढ़ियों से आग्रह कर रहे हैं कि वह अपने समाज में आजादी के अमृत महोत्सव को मनाने के लिए बढ़ चढ़कर हिस्सा लें। प्राचार्य डॉ. बी एल द्विवेदी के मार्गदर्शन में सभी कार्यक्रम अयोजित किए जा रहे हैं ।कार्यक्रम अधिकारी प्रो. विकास जैन ने अवगत कराया कि मेकलसूता महाविद्यालय में चित्रकला,निबंध लेखन, भाषण प्रतियोगिता, फैंसी ड्रेस,कविता लेखन,गीत गायन ,रंगोली ,पोस्टर नृत्य, नाटक ,प्रबुद्ध जनों की संगोष्ठीयों आदि के माध्यम से हर घर तिरंगा अभियान का प्रचार प्रसार जोरों से किया जा रहा है

सभी प्रतियोगिताओं की थीम स्वतंत्रता आंदोलन के नायक बलिदानी,स्वतंत्रता का संघर्ष और उनका देशव्यापी स्वरूप,स्वतंत्रता आंदोलन में समाज के सभी वर्गों की भूमिका, मेरे सपनों का भारत, एक भारत श्रेष्ठ भारत,आत्मनिर्भर स्वतंत्र भारत भारत की एकात्मता एवं अखंडता, शिक्षा में स्वतंत्रता के लिए राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020, स्वाधीन भारत के नागरिक का कर्तव्य बोध आदि विभिन्न विषयों पर लगातार प्रतियोगिताएं आयोजित महाविद्यालय स्तर पर की जा रही है जिस पर एनएसएस,कैरियर मार्गदर्शन प्रकोष्ठ एवं महाविद्यालय के सभी प्राध्यापक एवं विद्यार्थी सहयोग कर रहे हैं। आयोजनों के माध्यम से बलिदानीयों के बलिदान स्थल, स्मारक एवं गांव गांव मैं उपस्थित सभी जनों को भी प्रेरित किया जा रहा है। प्रतियोगिताओं को संपन्न कराने में प्रो अनुराधा वाल्मिक, प्रो सुभाष साह धुर्वे, प्रो भारती सिन्हा, प्रो सीमा तिवारी, प्रो धनी राम राठौर, प्रो कृष्ण कुमार बेलिया, प्रो शिल्पा वर्मा का विशेष योगदान रहा।

editor

Related Articles