◆ आवागमन सुविधा बनाने के लिए सड़क किनारे से अतिक्रमण, दुकान एवं ठेलों को हटाने के निर्देश दिए:-

◆ कलेक्टर झा ने कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में ली जिला स्तरीय सड़क सुरक्षा समिति की बैठक:-

डिंडौरी (रामसहाय मर्दन)। कलेक्टर रत्नाकर झा ने कहा कि सड़क दुर्घटना में कमी लाने के लिए ’’आईआरएडी एप’’ लाॅच किया गया है। जिसका उद्देश्य सड़क दुर्घटनाग्रस्त घायलों को उचित समय में अस्पताल पहुंचाना है। उन्होंने कहा कि इस एप में आम नागरिकों से अपेक्षाएं की गई हैं कि सड़क दुर्घटना होने के तुरंत बाद नजदीकी पुलिस थाने में इसकी तत्काल सूचना दी जाए। मदद करने वाले व्यक्ति को पुरूस्कार स्वरूप पांच हजार रूपए प्रदान किये जाएंगे। उन्होंने कहा कि इसके लिए एकीकृत सड़क दुर्घटना डाटाबेस तैयार किया गया है। जिसमें पुलिस विभाग, परिवहन विभाग, सड़क निर्माण विभाग एवं स्वास्थ्य विभाग की प्रमुख भूमिका रहेगी। कलेक्टर झा गुरूवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में जिला स्तरीय सड़क सुरक्षा समिति की बैठक उक्त निर्देश दिए। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक संजय सिंह, अपर कलेक्टर अरूण कुमार विश्वकर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जगन्नाथ सिंह, एसडीएम डिंडौरी बलवीर रमण, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ.रमेश मरावी, जिला आबकारी अधिकारी अशोक राय, जिला परिवहन अधिकारी चिकवा, यातायात प्रभारी राहुल तिवारी सहित विभागीय अधिकारी-कर्मचारी मौजूद थे। कलेक्टर रत्नाकर झा ने कहा कि वाहन चालकों का नियमित रूप से स्वास्थ्य परीक्षण किया जाए। उनकी आंख और बीपी, शुगर की जांच की जाए। यह कार्रवाई नियमित अंतराल पर लगातार होनी चाहिए। कलेक्टर झा ने कहा कि नगर पंचायतों में बेहतर आवागमन सुविधा बनाने के लिए सड़क किनारे से अतिक्रमण, दुकान एवं ठेलों को हटाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अस्थायी दुकानें एवं ठेलों को उचित स्थान पर लगाना होगा। उन्होंने सड़कों के दोनों किनारों में चूना लाईन डालकर सड़क सीमा निश्चित करने के निर्देश दिए। जिससे मुख्य मार्ग को अतिक्रमण मुक्त किया जा सके। कलेक्टर झा ने सड़कों में घूमने वाले आवारा पशुओं को पकड़कर गौशाला भेजने के निर्देश दिए। जिससे सड़कों में आवारा पशुओं की धमाचैकड़ी के कारण दुर्घटना से बचाव हो सके। कलेक्टर श्री झा ने नगर पंचायत के मुख्य मार्गाें की स्ट्रीट लाईट ठीक करने को कहा। स्ट्रीट लाईट में खराबी आने या बल्ब फ्यूज होने पर तत्काल दुरूस्त करें। उन्होंने सड़क मार्ग में पर्याप्त रोशनी हो, इसके लिए नवीन पोल लगाकर रोशनी का प्रबंध करने के निर्देश दिए। कलेक्टर झा ने कहा कि नगर पंचायत क्षेत्र की समस्त नालों की साफ-सफाई समय में करा ली जाए। बरसात में पानी भराव वाले स्थानों को चिन्हित कर पानी निकासी का प्रबंध करें। जिससे बरसात में जल कहीं भराव न हो। उन्होंने कहा कि बस स्टैण्ड डिंडौरी से अतिक्रमण हटाकर आवागमन सुविधा को व्यवस्थित किया जाए। आम नागरिकों को अतिक्रमण न करने के लिए समझाईस दें। बस स्टैण्ड से निकलने वाले वाहन/बसें मुख्य मार्ग में कहीं भी खड़ा न किया जाए। बसों का आवागमन और प्रस्थान समय पर सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने नगर के अंदर लगे अवैध होर्डिंग्स/बोर्डों पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री झा ने कहा कि सभी वाहन चालकों/व्यक्तियों को यातायात के नियमों का पालन करना होगा। उन्होंने यातायात के नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहन चालकों/व्यक्तियों के विरूद्ध कार्रवाई करने के निर्देश दिए। यातायात प्रभारी राहुल तिवारी ने बताया कि कृषि उपज मण्डी शहर के मध्य स्थित होने के कारण दिनभर भारी वाहन शहर के अंदर प्रवेश करते हैं। जिससे यातायात बाधित होती है, सड़क दुर्घटना होने की संभावना बनी रहती है। इस कारण कृषि उपज मण्डी को शहर से बाहर स्थानांतरित करना आवश्यक है। कलेक्टर रत्नाकर झा ने इस सुझाव पर कृषि उपज मण्डी को शहर से बाहर स्थानांतरित करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर कृषि मण्डी स्थल पर काॅम्पलेक्स एवं वाहन पार्किंग बनाने का प्रस्ताव रखा गया। कलेक्टर झा ने सिविल लाईन एवं अस्पताल एरिया को नो हार्न जोन घोषित किया है। उन्होंने मुख्य मार्गों में सड़क दुर्घटना के कारणों का विश्लेषण कर दुर्घटना की रोकथाम हेतु उचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। दुर्घटनाग्रस्त मोड़ों को चिन्हित करते हुए सड़क किनारे सांकेतिक चिन्ह लगाने को कहा गया। जिससे आवागमन सुविधा बेहतर बन सके। उन्होंने मुख्य मार्ग में जेबरा क्रासिंग लगाने के निर्देश दिए। मुख्य मार्ग पर टूटे-फूटे डिवाइरों की मरम्मत करने को कहा।

administrator, bbp_keymaster

Related Articles