डिंडौरी| जांच में सिद्ध होने के बाद भी भ्रष्टाचारियों के द्वारा निर्माण कार्यों के नाम में किए गए फर्जी भुगतान 17 लाख 20 हजार रूपये की क्यों नहीं हो रही वसूली….

डिंडौरी| जांच में सिद्ध होने के बाद भी भ्रष्टाचारियों के द्वारा निर्माण कार्यों के नाम में किए गए फर्जी भुगतान 17 लाख 20 हजार रूपये की क्यों नहीं हो रही वसूली….

जांच में ग्राम पंचायत कनईसांगवा के सरपंच,सचिव, जीआरएस समेत उपयंत्री एवं सहायक यंत्री पर निकला था 1720,000 रू वसूली…..

ग्रामीणों ने गली प्लग निर्माण कार्य मे फर्जीवाड़ा करने का लगाया था आरोप…

ग्रामीणों की शिकायत के बाद गली प्लग निर्माण कार्य की गई जांच…

डिण्डौरी(रामसहाय मर्दन)| जहां एक ओर डिंडौरी कलेक्टर विकास मिश्रा सरकारी पैसा बचाने के लिए राष्ट्रीय पर्व गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस जैसे राष्ट्रीय महापर्व पर भी में मीडिया को शुभकामना संदेश नहीं देने का अधिकारी कर्मचारियों को निर्देश दिया है तो जिले के अनेकों विभाग सहित सभी जनपद के अनेकों ग्राम पंचायतों में जांच में लाखों रुपए की रिकवरी सिद्ध होने के बावजूद भ्रष्टाचारियों से रिकवरी राशि नहीं वसूली जा रही है। जिससे यह अनुमान लगाया जा सकता है कि सुर्खियों में रहने वाले कलेक्टर महोदय के द्वारा भ्रष्टाचारियों पर किस तरह मेहरबानी दिखा रहे।

दरअसल विगत दिनों जनपद पंचायत डिंडौरी अंतर्गत ग्राम पंचायत कनईसांगवा के ग्रामीणों के द्वारा शिकायत कर निर्माण कार्यों की जांच कराने की मांग की गई थी जिस पर जाँच टीम ने जांच प्रतिवेदन दिया है दिए गए जाँच प्रतिवेदन में उल्लेख किया गया है कि शिकयत पत्र क्रमांक/ज.प.// 2022 / 1005 डिण्डौरी परिपालन में ग्राम पंचायत कनईसांगवा में मनरेगा अन्तर्गत गली प्लग निर्माण कार्य में 1720000.00 आहरण करने की शिकायत ग्राम पंचायत कार्यालय कनईसांगवा में शिकायतकर्ताओं एवं ग्रामवासियों की उपस्थिति में पूछताछ की गयी तदपश्चात कार्य स्थल में जाकर निर्माण कार्य की जाँच की गयी एवं पंचनामा बनाया गया। जाँच के दौरान ग्राम कनईसांगवा चरकी पथरिया भाग 02 में गली प्लग निर्माण कार्य में बोल्डर (सामग्री) का भुगतान 10 ट्रेक्टर ट्राली से परिवहन कराये जाने की जानकारी दी गयी की राशि लगभग 5000 रू होता है। शेष भुगतान मजदूरों को मजदूरी के रूप में किया जाना था किन्तु मजदूरों को भुगतान न किया जाकर सामग्री का बिल क्रमांक 52.53 एवं 54 की कुल राशि 172000/-रू किया जाना पाया गया। इस संबंध में तत्कालीन सचिव गीत सिंह पारासर से लिया गया कथन के अनुसार गीत सिंह पारासर के द्वारा उक्त निर्माण कार्य पूर्ण होने के बाद सामग्री परिवहन का बिल क्रमांक 52.53 एवं 54 की राशि कमश 2962261752. एवं 80181 कुल 172000/-रू में से 10 ट्रैक्टर ट्राली बोल्डर का भुगतान वास्तविक रूप से किया जाना था एवं शेष बिलों की राशि मजदूरी के रूप में किया जाना था किन्तु नत्थू लाल बनवासी ग्राम प्रधान एवं संतोष बिलागर सप्लायर तथा ग्राम रोजगार सहायक भारत सिंह बिलागर द्वारा नाजायज दबाव देकर मेरे मना करने के बाद भी उक्त तीनों बिलों में हस्ताक्षर करा लिये गये कार्यालय ग्राम पंचायत द्वारा दिनांक 27.11.2020 का पत्र मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत डिण्डौरी को 02.12.2020 को उक्त तीनों बिलों को निरस्त करने का पत्र दिया गया था जिसका मूल्यांकन उपयंत्री रिषभ सिक्का द्वारा किया गया था जांच के दौरान वर्तमान सचिव रेश कुमार बिलागर से लिखित कथन लिये गये जिसमें रेश कुमार के द्वारा दिनांक 30.06.2022 को पदभार ग्रहण करते हुये वर्तमान में भी ग्राम पंचायत कनईसागवा का अतिरिक्त प्रभार सचिव पद संभाल रहे है। किन्तु आज दिनांक तक ग्राम पंचायत का कोई भी रिकॉर्ड अभिलेख प्रभार में नहीं देने का कथन दिया गया है। जांच के दौरान सचिव के माध्यम से तत्कालीन प्रधान नत्थू लाल बनवासी एवं ग्राम रोजगार सहायक भारत सिंह बिलागर को अपने-अपने कथन दिये जाने हेतु बुलाया गया था किन्तु प्रतिवेदित दिनांक तक उक्त दोनो के द्वारा अपना कथन नहीं दिया गया था जिस पर आज तक भ्रष्टाचारियों पर ना कार्रवाई की गई ना ही जांच में निकली 17 लाख 20 हजार की राशि वसूली गई।

गौरतलब यह है कि विगत दिनों मंगलवार को जनसुनवाई में आए ग्राम पंचायत कनईसांगवा के ग्रामीणों ने बताया कि लाखों रुपए के भ्रष्टाचार करने के बावजूद भी भ्रष्टाचारियों के ऊपर जिम्मेदार अधिकारियों के मेहरबानियां के चलते ना ही कार्रवाई की जा रही है और ना ही रिकवरी की राशि वसूली जा रही है।

◆ जांच प्रतिवेदन के अनुसार:-

ग्राम कनईसांगवा के चरकी पथरिया भाग-02 में निर्माण कराये गये गली प्लग कार्य के दौरान उपलब्ध ऑनलाईन रिकॉर्ड के अनुसार 172000/- रु. का भुगतान सामग्री मद पर किया गया उक्त कार्य मे सामग्री परिवहन पर 10 ट्रेक्टर ट्राली का वास्तविक भुगतान लगभग 5000 रू किया जाना था किन्तु 167000 का भुगतान सामग्री पर किया गया। जिससे परिवहन से अधिक भुगतान की गयी राशि 167000रु नत्थू लाल बनवासी ग्राम सरपंच एवं ग्राम रोजगार सहायक भारत सिंह बिलागर व ऋषभ सिक्का उपयंत्री एवं गीतसिंह सचिव तथा संबंधित सहायक यंत्री से वसूली योग्य है।

पूर्व में प्रकाशित समाचार पत्र:—

editor

Related Articles