डिंडौरी,रामसहाय मर्दन| मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री के नाम को लेकर जारी सस्पेंस आखिरकार खत्म हो गया। राज्य के मुख्यमंत्री के तौर पर मोहन यादव के नाम पर मुहर लग गई है। भाजपा की विधायक दल की बैठक में सर्वसम्मति से इनके नाम को मुहर लगी। इससे पहले भाजपा आलाकमान ने मनोहर लाल खट्टर, डॉ. के लक्ष्मण और आशा लकड़ा को पर्यवेक्षक बनाकर सीएम चुनने की जिम्मेदारी सौंपी थी। पर्यवेक्षकों की मौजूदगी में सोमवार को हुई विधायक दल की बैठक में मोहन यादव के नाम को फाइनल किया गया।

मोहन यादव उज्जैन दक्षिण विधानसभा सीट से विधायक हैं। साथ ही मध्य प्रदेश में दो उपमुख्यमंत्री भी होंगे। इनके लिए जो दो नाम सामने आ रहे हैं, वे हैं- जगदीश देवड़ा और राजेन्द्र शुक्ला। जगदीश देवड़ा मल्हारगढ़ और राजेंद्र शुक्ला रीवा से विधायक हैं। इसके अलावा स्पीकर पद के लिए नरेंद्र सिंह तोमर के नाम का एलान किया गया है। बात दे कि डॉ. मोहन यादव उच्च शिक्षा मंत्री के साथ-साथ डिंडौरी जिले के प्रभारी मंत्री के रूप में जिले में कार्य कर चुके हैं। इनकी नियुक्ति पर भारतीय जनता पार्टी जिला अध्यक्ष अवध राज बिलैया ने हर्ष व्यक्त करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन एवं डॉ. मोहन यादव के नेतृत्व में मध्य प्रदेश एक स्वर्णिम प्रदेश बनकर उभरेगा।

editor

Related Articles