अब युवा सोच के साथ होगा ग्राम पंचायतों का समूचा विकास :-

डिंडौरी (रामसहाय मर्दन) पूरे जिले में पंचायत चुनावों में इस बार मतदाताओं ने कई साल से जमें नेताओं को बाहर का रास्ता दिखा दिया और  युवाओं को मौका दे दिया है। बात दे कि ग्राम के सरपंच से लेकर जनपद व जिला पंचायत सदस्यों के रूप मे जनता ने युवा वर्ग को मौका दिया है। दोनों दलों के बड़े नेताओं ने हार का स्वाद चख लिया। प्रमुख रूप से गोंडवाना गणतंत्र पार्टी ने जनपद पंचायत अध्यक्षों पदों पर काबिज हुए।

युवाओं पर पंचायत विकास की जिम्मेदारी:-

कई पंचायतों के ग्रामीणों ने इस बार सरपंच पद पर युवाओं पर भरोसा जताया है। जहां उन्हें एक नई सोच के साथ नई जिम्मेदारी मिली हैं, ग्राम पंचायत अमरपुर में भाजपा काबिज होने में सफल रहा रामनाथ उद्दे सरपंच बनें वहीं युवा मोर्चा अध्यक्ष सैंकी चंद्रौल उपसरपंच विजय रहें। पंचायती चुनाव में इस बार कई युवाओं ने चुनावी समर में उतरने का फैसला लिया और दिङ्गगजों को पटकनी देते हुये चुनाव परिणाम अपने नाम किया है। युवाओं के जीत की मुख्य वजह उनकी टोली ही रही है जिन्होने खुलकर प्रचार प्रसार के साथ मतदाताओं को अपने पक्ष में मतदान करने के लिये रिझाया है।

नव युवा सरपंचों ने कहा विकास प्राथमिकता:-

सरपंच पद पर जीत दर्ज करने के बाद युवा सरपंचों ने कहा कि सरपंच बनने के बाद अब उनका पूरा फोकस गांव के विकास पर रहेगा।अपने युवा जोश और बुजुर्गों के मार्गदर्शन से वह उसका पूरा इस्तेमाल गांव के विकास में करेगे, गांव में शिक्षा, सडक़, बिजली, स्वास्थ्य और ग्रामीणों को घर दिलाना उनका पहला कर्तव्य है। खास बात यह है कि इन युवाओ के गांव के सरपंच बनने के साथ-साथ पढ़ाई भी जारी रखेगे। वहीं युवा नेतृत्व का गांव में सरपंच बनने के बाद लोगों को भी गांव के विकास की उम्मीद है। जबकि सभी नव युवको द्वारा भी गांव के विकास की बात कही हैं।

बधाई देने वालों का लगा रहता है तांता:-

जैसे ही पंचायतों में युवाओं ने जो जीत हासिल की है उसके साथ ही जीत के बाद घर के बाहर बधाई देने वालों का तांता लगा है। वही जीत के बाद पूरे पंचायत का भ्रमण करते हुए ढोल नगाड़े रंग गुलाल के साथ सभी पंचायत के मतदाताओं का आभार व्यक्त किया साथी मतदाताओं द्वारा बधाइयां दी गई एवं सरपंच के समर्थकों के चेहरों में खुशी का ठिकाना ना रहा।

administrator, bbp_keymaster

Related Articles