डिंडौरी| पुलिस अधीक्षक संजय सिंह ने जिले के गोल्ड दिव्यांश जैन को गोल्ड मेडल पहना कर किया सम्मानित….

डिंडौरी| पुलिस अधीक्षक संजय सिंह ने जिले के गोल्ड दिव्यांश जैन को गोल्ड मेडल पहना कर किया सम्मानित….

डिंडौरी| पुलिस अधीक्षक संजय सिंह ने जिले के गोल्ड दिव्यांश जैन पिता दिनेश जैन माता श्रीमती शिल्पा जैन के सुपुत्र दिव्यांश जैन को आज पुलिस अधीक्षक संजय सिंह ने जिले के गोल्ड दिव्यांश जैन को गोल्ड मेडल पहनाकर सम्मानित किया गया आदिवासी बहुमूल्य जिले के एक और होनहार खिलाड़ी ने जिले को गौरवान्वित करने पर व इनकी इस उपलब्धि पर फूल माला एवं गोल्ड मेडल पहनाकर पुलिस अधीक्षक संजय सिंह ने किया सम्मानित बता दें कि दिव्यांश जैन मणिपुर में पदस्थ लेफ्टिनेंट इंडियन आर्मी सिग्नल फोर में पदस्थ हैं बहुत ही खुशी एवं हर्ष का विषय है की दिव्यांग जैन इस छोटे से आदिवासी बहुमूल्य जिला डिंडोरी के होनहार एवं टैलेंटेड खिलाड़ी के साथ—साथ पढ़ाई में भी हुनर से भरे हुए हैं एवं देश सेवा की लगन एवं हुनर पर लेफ्टिनेंट कर्नल के पद तक पहुंचा दिया है इस गौरव को देखकर पुलिस अधीक्षक संजय सिंह जी ने खुशी जाहिर की फिर एक टैलेंट लड़का जिले से निकल कर आगे आया है बता दें कि जिला खेल प्रशिक्षक आरती सोंधिया के नेतृत्व प्रशिक्षण प्राप्त कर इन्होंने बचपन से ही खेल के प्रति लगाओ एवं देश की सेवा करने की ललक रही जो फिर एक गौरव निकालने मैं यह पीछे नहीं रही गौरव की बात यह है कि इनके पिता दिनेश जैन भी बच्चे की लगन देखकर 5 साल से ही बच्चे को शारीरिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए खेल से जोड़ दिए थे जिससे कि बच्चे मे किसी भी प्रकार का शारीरिक फिटनेस ना रुके खेल के प्रति बच्चों को आगे बढ़ाने में इनके पिताजी का पूरा सहयोग रहा बता दें कि दिव्या जैन बास्केटबॉल के साथ फुटबॉल के अच्छे खिलाड़ी है जो आज खेल के माध्यम से पढ़ाई के साथ साथ इन्होंने डिंडोरी के मदर टेरेसा स्कूल में पढ़ाई की इसके बाद कक्षा ग्यारहवीं कक्षा बारहवीं विदिशा से पूरी की है एवं एनडीए नेशनल डिफेंस एकेडमी पुणे में 3 वर्ष पूरी की है एवं आई एम ए देहरादून मैं 1 वर्ष ट्रेनिंग की इसके बाद इस उपलब्धि प्राप्त कर इन्होंने विजय हासिल कर डिंडोरी को गौरवान्वित किया है इस उपलब्धि पर पुलिस अधीक्षक द्वारा सम्मानित कर जिले के गौरव पर हर्ष व्यक्त किया है की डिंडोरी में टैलेंट की कमी नहीं है जो पढ़ाई के साथ साथ खेलों से जुड़कर आगे बढ़ा जा सकता है इसीलिए कहां जाता है कि स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मस्तिष्क का वास होता है अगर बच्चा स्वस्थ रहेगा तो ऑटोमेटिक उसे कोई रोक नहीं सकता इस उपलब्धि पर कलेक्टर एवं थाना प्रभारी व अनुविभागीय अधिकारी  खेल और युवा कल्याण अधिकारी रविंद्र ठाकुर जिले के आदरणीय जैन समाज परिवार के गणमान्य नागरिक व नेहरू व केंद्र अधिकारी आरपी कछवाहा चेतराम अहिरवार सुमन कुमार रोशन बाबू झरिया वह नगर वासियों ने ढेर सारी शुभकामनाएं एवं बधाई दी है।

editor

Related Articles