डिंडौरी: सीएम हेल्पलाईन की शिकायतों का निराकरण सर्वोच्च प्राथमिकता से करें: कलेक्टर रत्नाकर झा

डिंडौरी:  सीएम हेल्पलाईन की शिकायतों का निराकरण सर्वोच्च प्राथमिकता से करें: कलेक्टर रत्नाकर झा

◆ कलेक्टर रत्नाकर झा ने सोमवार को समय-सीमा की बैठक में दिए उक्त निर्देश

डिंडौरी (रामसहाय मर्दन)। कलेक्टर रत्नाकर झा ने कहा कि सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों का निराकरण सर्वोच्च प्राथमिकता के साथ लेवल-1 और लेवल-2 पर ही संतुष्टिपूर्वक दर्ज करना सुनिश्चित करें। उन्होंने सभी अधिकारियों को सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों की रोजाना मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए। शिकायतकर्ता से संपर्क कर शिकायतों को संतुष्टि पूर्वक दर्ज करने को कहा। कलेक्टर झा सोमवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित समय-सीमा की बैठक में विभागीय कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। इस अवसर पर अपर कलेक्टर अरुण कुमार विश्वकर्मा, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत  अंजू अरुण कुमार, एसडीएम डिंडौरी बलबीर रमण, एसडीएम श्रीमती काजल जावला, संयुक्त कलेक्टर सुश्री रजनी वमार्, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. रमेश मरावी, सहायक आयुक्त जनजातीय कार्य विभाग डाॅ. संतोष शुक्ला, जिला समन्वयक सर्व शिक्षा अभियान राघवेन्द्र मिश्रा, जिला योजना अधिकारी ओ.पी. सिरसे, जिला परियोजना अधिकारी एनआरएलएम  मीना परते सहित जिला एवं जनपद स्तरीय अधिकारी-कर्मचारी मौजूद थे। कलेक्टर झा ने प्रधानमंत्री उज्जवला योजना अंतर्गत हितग्राहियों को निःशुल्क गैस चूल्हा वितरण के बारे में जानकारी ली। उन्होंने राशन आपके ग्राम योजना के अंतर्गत खाद्यान्न का वितरण और वाहनों के देयकों का भुगतान नियमित रूप से करने के निर्देश दिए। कलेक्टर झा ने गेंहूं उपार्जन केन्द्रों के उपार्जन के परिवहन के बारे में भी जानकारी ली।
कलेक्टर रत्नाकर झा ने अमृत सरोवर अभियान अंतर्गत स्टाॅप डेम/तालाब निर्माण कार्याें की समीक्षा की। उन्होंने उक्त निर्माण कार्याें की लगातार माॅनीटरिंग करने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर झा ने ग्राम पंचायतों में 3 किलोमीटर तक सड़क किनारे वृक्षारोपण करने करने को कहा। उन्होंने बरसात के मौसम में वृक्षारोपण करने के लिए व्यापक तैयारियां करने के निर्र्देश दिए। जिससे शासकीय परिसर, सार्वजनिक स्थान, तालाबों एवं स्टाॅप डेमों की मेढों पर वृक्षारोपण किया जा सके। कलेक्टर झा ने एनआरएलएम के माध्यम से मुनगा पाउडर तैयार करने के लिए प्रोसेसिंग यूनिट की तैयारियों के बारे में जानकारी ली। कलेक्टर झा ने जल जीवन मिशन के कार्याें की समीक्षा की। जल जीवन मिशन के कार्याें को समय-सीमा में पूरा करने को कहा। उन्होंने स्कूलों और आंगनबाडी केन्द्रों में नल कनेक्शन देने तथा विद्युतीकरण करने के निर्देश दिए। कलेक्टर रत्नाकर झा ने जिले में दुग्ध उत्पादन को बढावा देने के लिए स्व-सहायता समूहों के माध्यम से तैयार होने वाली दुग्ध डेयरी की समीक्षा की।

administrator, bbp_keymaster

Related Articles