डिंडौरी| जुनवानी मिशनरी छात्रावास यौन शोषण मामले में आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई करने जिला बसपा ने राष्ट्रपति के नाम सौंपा ज्ञापन….

डिंडौरी| जुनवानी मिशनरी छात्रावास यौन शोषण मामले में आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई करने जिला बसपा ने राष्ट्रपति के नाम सौंपा ज्ञापन….

 डिंडौरी(रामसहाय मर्दन)| जिले के विकासखण्ड अमरपुर  अंतर्गत जुनवानी छात्रावास यौन शोषण के मामले में उचित कार्रवाई की मांग को लेकर बहुजन समाज पार्टी ने कलेक्टर को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपकर फरार आरोपियों को गिरफ्तार करने मांग की है। बसपा के  द्वारा दिए गए पत्र में उल्लेख किया गया है कि जुनवानी मिशनरी स्कूल में यौन शोषण के मामले में जिनके नाम से संबंधित थाने में एफआईआर दर्ज की गई थी,जो शेष बचे हुये आरोपी है उन्हें तत्काल गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश करें एवं जिले में जितने भी मिशनरी संस्था संचालित है तथा शासन से ग्रांट प्राप्त संस्थायें इनकी एक टीम बनाकर सूक्ष्मता से जांच कराई जाये जो शासन से शिष्यवृत्ति राशि की भी जांच हो एवं प्रत्येक छात्र छात्राओं से 1,500/- रू. प्रति माह लिये जाने की भी जांच कराई जाये प्राईवेट संस्थाओं को मान्यता देने वाले अधिकारी को तत्काल निलंबित किया जाये एवं उसकी जांच कराई जाये। जिले में ग्रांड अनुमोदन का कार्य जिला शिक्षा अधिकारी के द्वारा किया जाता है, पर इनके द्वारा आज तक मिशनरी छात्रावासों का निरिक्षण समयानुसार नहीं किया गया। जिले में धर्मांतरण का भी खेल चल रहा है इस पर तत्काल रोक लगाई जाये। सरकारी मदद पर भी सवाल, बड़ा सवाल यह है कि मिशनरी स्कूल मंत्रारण में लिया था तो सरकारी मदद कैसे मिल रही थी क्योंकि स्कूलों को सरकारी मदद देने के लिये प्रति वर्ष कलेक्टर की तरफ से शासन को रिपोर्ट भेजी जाती है सरकारी मदद की निगरानी की जाती है। दी गई राशि शैक्षणिक कार्यों पर ही खर्च हो इस बात का भी ध्यान नहीं रखा गया है। जुनवानी मिशनरी स्कूल में आदिवासी नावालिग छात्राओं के यौन शोषण का मामला सामने आने के बाद स्कूल में संचालित कई गैर कानूनी गतियोधियों की खुलासा होने के बाद जिल्ला प्रशासन को मालूम होने पर कुछ छोटे कर्मचारीयों पर गाज गिराई गई जो निंदनिय है। विभागीय प्रमुख्य अधिकारीयों को बचाया जा रहा है। जिस पर डिंडौरी बसपा ने ठोस कार्रवाई करने की मांग की है ।

editor

Related Articles