डिण्‍डौरी: कलेक्टर रत्नाकर झा ने समय-सीमा की बैठक में की विभागीय कार्यां की समीक्षा

डिण्‍डौरी: कलेक्टर रत्नाकर झा ने समय-सीमा की बैठक में की विभागीय कार्यां की समीक्षा

डिण्‍डौरी (रामसहाय मर्दन)। कलेक्टर रत्नाकर झा ने कहा कि स्कूल शिक्षा विभाग में संलग्न शिक्षकों को दायित्व मुक्त किया जाए, जिससे स्कूल की पढाई प्रभावित न हो। स्कूलों का संचालन सुचारू रूप से किया जा सके। कलेक्टर झा ने ग्राम पंचायतों में प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की सड़कों के किनारे तीन किलोमीटर की सीमा तक होने वाले वृक्षारोपण की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने पौधों में सिंचाई और सुरक्षा के लिए मजदूर लगाने के निर्देश दिए। कलेक्टर झा ने सोमवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में समय-सीमा की बैठक ली। इस अवसर पर अपर कलेक्टर अरूण कुमार विश्वकर्मा, मुख्यकार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्रीमती अंजू अरूण कुमार, एसडीएम डिंडौरी बलवीर रमण, एसडीएम शहपुरा श्रीमती काजल जावला, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. रमेश मरावी, जिला योजना अधिकारी ओ.पी. सिरसे, कार्यपालन यंत्री पीएचई शिवम सिन्हा सहित जिला एवं जनपद स्तरीय अधिकारी-कर्मचारी मौजूद थे।कलेक्टर झा ने खरीफ 2022 हेतु सभी उचित मूल्य की दुकानों में उर्वरक का भण्डारण एवं वितरण की समीक्षा की। जिससे जिले में किसानों के लिए उर्वरक की उपलब्धता सुनिश्चित रहे। उन्होंने जिले में उर्वरकता की कमी होने पर तत्काल मांग पत्र भेजने के निर्देश दिए। कलेक्टर झा ने जाति प्रमाण पत्र अभियान, दुग्ध डेयरी, हेरीटेज मदिरा ईकाई, संबल योजना, प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना, आयुष्मान भारत कार्ड और प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के प्रगति की समीक्षा की। कलेक्टर झा ने जिले के सभी स्कूलों और आंगनबाडी केन्द्रों में नल एवं विद्युत कनेक्शन की समीक्षा की। उन्होंने जिले के सभी स्कूल और आंगनबाडी केन्द्र के परिसरों में फलदार पौधे लगाने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर श्री झा ने सीएम हेल्पलाईन के लंबित प्रकरणों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों का निराकरण संतुष्टिपूर्वक दर्ज करें। सभी अधिकारी सीएम हेल्पलाईन की शिकायतों की लगातार मॉनीटरिंग करें। सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों के निराकरण की रिपोर्ट नियमित रूप से प्रस्तुत करें।

administrator, bbp_keymaster

Related Articles