जबलपुर। इंस्टिट्यूशन आफ इंजिनियर्स इंडिया लोकल सेंटर जबलपुर के तत्वावधान में आयोजित इंडियन इंजीनियरिंग कांग्रेस 2023 का आज समापन हुआ। इस तीन दिवसीय 38वीं इंडियन इंजीनियरिंग कांग्रेस में प्रसिद्ध वैज्ञानिक डॉ सुधीर कुमार मिश्रा सहित देश-विदेश के लगभग 500 से अधिक वैज्ञानिकों विशेषज्ञों व इंजीनियरों ने हिस्सा लिया। कांग्रेस में जहां विभिन्न तकनीकी सत्रों और ओपन सेशन में इंजीनियरिंग की वर्तमान और भविष्य में आने वाली चुनौतियों से निपटने गहन मंथन हुआ वही आखिरी दिवस विशेषज्ञों ने विकसित भारत की संकल्पना को मूर्त रूप देने के निश्चय के साथ 38वीं इंडियन इंजीनियरिंग कांग्रेस का समापन किया।

पुराने बांधों को बचाने सहित 16 विषयों पर प्रस्तुत हुए अंतिम दिन पेपर
आयोजन समिति के प्रचार प्रभारी श्री तरुण आनंद और डाक्टर राजीव जैन ने बताया कि आज इंडियन इंजीनियरिंग कांग्रेस में विभिन्न संकायों के 16 तकनीकी पेपर प्रस्तुत किए गए जिसमें जहां डॉक्टर श्रेया गौतम ने आज की जरूरत फाइबर ऑप्टिकल केबल के समुद्र के अंदर उपयोग के बारे में विस्तार से बताया, वही इंजीनियर व्ही रामनाथन ने इंजीनियरिंग की विभिन्न तकनीकों के उपयोग से आने वाले कल को जनसाधारण के लिए आसान बनाने पर बल दिया। तकनीकी सत्र में डॉक्टर जी कोडाला राव ने भारत में 50 वर्ष से ज्यादा पुराने बांधों की सुरक्षा और संरक्षण के बारे में चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि बांधों के किनारे रह रहे भारतीय जनमानस को बचाने के प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पिछले सालों में भारत में 40 बांध प्राकृतिक या अन्य कारणों से नष्ट हो गए हैं। अभी भी भारत में 5334 बांध है, जिनमें लगभग आधे बांध पुराने व समय के साथ कमजोर हो गए हैं। इसी तरह 1000 छोटे बांधों का संरक्षण भी जरूरी है। तकनीकी सत्र में दीप्ति वाय पाटिल, राजेंद्र गोडे, डाक्टर मुक्ता भटले ने ए क आई तकनीक पर ,प्रशांत चौधरी अखिलेश ए वाओ,वीरेंद्र तिवारी ने वायरलेस सेंसर नेटवर्क जैसे ज्वलंत विषयों पर अपने उपयोगी पेपर प्रस्तुत किया ।

इंजी राकेश राठौर निर्वाचित हुए स्टेट सेंटर के काउंसलिंग मेंबर
कांग्रेस में इंस्टीट्यूशन आफ इंजिनियर्स इंडिया के कॉर्पोरेट सदस्यों की वार्षिक सामान्य बैठक भी सम्पन्न हुई। जिसमें जबलपुर से इंजीनियर राकेश राठौर को मध्यप्रदेश से स्टेट सेंटर का काउंसलिंग मेंबर निर्वाचित किया गया। इसी तरह चेन्नई के श्री जी रंगनाथ को इंस्टिट्यूशन का इंजीनियर का 2023-24 के लिए राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना गया।

विधायक श्री अजय बिश्नोई के मुख्य आतिथ्य में हुआ समापन                                38वीं इंडियन इंजीनियरिंग कांग्रेस का समापन पाटन विधायक श्री अजय बिश्नोई के मुख्य आतिथ्य में संपन्न हुआ। उन्होंने जबलपुर में ऐसे ऐतिहासिक और महत्वपूर्ण आयोजन के लिए इंस्टीट्यूशन आफ इंजिनियर्स लोकल सेंटर जबलपुर के अध्यक्ष ब्रिगेडियर सी के त्रिवेदी, आयोजन समिति के अध्यक्ष इंजीनियर राकेश राठौर, सचिव डॉक्टर मुक्ता भटेले, लोकल सेंटर के सचिव डॉक्टर राजीव जैन को बधाई देते हुए उम्मीद जाहिर की कि विकसित भारत की परिकल्पना के सरकार होने में वैज्ञानिक और इंजीनियर इसी तरह अपना अमूल्य योगदान देते रहेंगे।

administrator, bbp_keymaster

Related Articles