डिंडौरी: राष्ट्रपति के लिए अभद्र टिप्पणी करने वाले कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी का किया पुतला दहन…

डिंडौरी: राष्ट्रपति के लिए अभद्र टिप्पणी करने वाले कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी का किया पुतला दहन…

अधीर रंजन चौधरी ने समूचे आदिवासियो का अपमान किया: कुलस्ते:-

डिंडौरी (रामसहाय मर्दन) कांगेस के प्रमुख नेता व लोकसभा प्रतिपक्ष अधीर रंजन चौधरी ने भारत के सर्वोच्च पद पर आसीन राष्ट्रपति श्रीमति द्रोपदी मुर्मु को ‘‘राष्ट्रपत्नि’कहा जिससे भाजपा के पदाधिकारियो के द्वारा देश भर मे अधीर रंजन चौधरी का पुतला दहन किया गया। इसी तारतम्य मे भाजपा के केन्द्रीय व प्रदेश नेतृत्व के आव्हान पर व जिलाध्यक्ष नरेन्द्र सिंह राजपूत के नेतृत्व मे जिला भाजपा कार्यालय से पैदल मार्च करते हुए भारत माता चैंक पहुॅचे एवं युवामोर्चा के कार्यकर्ताओं के द्वारा पुतला दहन किया। इस दौरान केन्द्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने कहा कि अधीर रंजन चौधरी का स्पष्ट उद्देश्य था कि राष्ट्रपति आदिवासी होने के कारण जानबूझकर अपमानित करने का कार्य किया गया है। कांग्रेस आदिवासी महिला को राष्ट्रपति की कुर्सी पर बैठे देखकर बर्दाश्त नही कर पा रही है। यह पहली बार नही हो रहा इससे पूर्व मे भी कांग्रेस के द्वारा कई बार आदिवासियो का अपमान किया गया है। पर्यटन विकास निगम के अध्यक्ष विनोद गौटिया ने कहा कि इतने बड़े सवैधानिक पद पर होते हुए भी अधीर रंजन चौधरी का देश के सर्वोच्च पद के प्रति अभद्र टिप्पणी करना अशोभनीय है। भाजपा राष्ट्रीय मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे ने कहा कि कांगे्रस में नैतिकता ही नही है अगर थोड़ी सी भी शर्म होती तो अब तक अधीर रंजन चैधरी को पार्टी से अलग कर दिया होता। इस तरह की टिप्पणी से देश, संविधान, महिला और जनजाति समाज की गरिमा मे ठेस पहुची है। भाजपा जिलाध्यक्ष नरेन्द्र सिंह राजपूत ने कहा कि राष्ट्रपति एक पार्टी की नही होती अपितु पूरे देश की होती है और सभी को उनका सम्मान करना चाहिए लेकिन कांग्रेस के नेता उन पर अभद्र भाषा का प्रयोग कर उनका अपमान करने पर अडिग है, यह लोकतंत्र का अपमान है।

पुतला दहन के बाद थाने मे भाजपाईयों ने कराई FIR दर्ज:-

कांग्रेस नेता के विवादित बोल पर जिला भाजपा के द्वारा न सिर्फ पुतला दहन किया गया बल्कि केन्द्रीय मंत्री फग्गनसिंह कुलस्ते व पर्यटन विकास निगम अध्यक्ष विनोद गौटिया की उपस्थिति मे कोतवाली थाना डिण्डौरी पहुॅचकर थाने मे एफ.आई.आर दर्ज कराई गई ताकि इस प्रकार की विवादित टिप्पणी पुनः न दोहराई जायें।  इस दौरान केन्द्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते, पर्यटन विकास निगम के अध्यक्ष विनोद गौटिया, भाजपा राष्ट्रीय मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे, भाजपा जिलाध्यक्ष नरेन्द्र सिंह राजपूत, अजजा मोर्चा प्रदेश महामंत्री पंकज सिंह तेकाम, वरिष्ठ नेता अशोक अवधिया, पूर्व विधायक दुलीचंद उरैती, पूर्व जिला महामंत्री व रेल्वे बोर्ड सलाहकार एड़ राजेन्द्र पाठक, जिला महामंत्री जयसिंह मरावी, अवधराज बिलैया, ज्ञानदीप त्रिपाठी, जिला उपाध्यक्ष सुशीला मार्को, बद्रीप्रसाद साहू, जिला मंत्री कीर्ति गुप्ता, सियाराम साहू, वरिष्ठ नेता कृष्णा सिंह परमार, सरमन सिंह ठाकुर, कृष्णलाल हस्तपुरिया, मण्डल अध्यक्ष लक्ष्मण सिंह ठाकुर, हेमसिंह राजपूत, कृष्णकुमार मिश्रा, सुशील राय, युमो जिलाध्यक्ष अविनाश छावड़ा, पि.वर्ग मोर्चा जिलाध्यक्ष दशरथ सिंह राठौर, मण्डल महामंत्री चन्द्रशेखर नायक, कुंवरिया मरावी, संतोष गुप्ता, राजेश वंशकार, राजेन्द्रपाल कुशराम, सुदील बरमैया, गामूसिंह परमार, भागीरथ उरैती, राजकुमार बर्मन, पीताम्बर पाराशर, चन्दर सिंह परमार, यशवंत तोमर, तरूण ठाकुर, शिवम चैहान, आशीष यादव, कुशलराज बिलैया, चंचल अग्रवाल, शान्तनु पाठक, मनी सैनी, दुर्गेश जोगी, पवन साण्डया, गोकुल ठाकुर सहित समस्त कार्यकर्तागण मौजूद रहें।

administrator, bbp_keymaster

Related Articles