(रामसहाय मर्दन) डिंडौरी/शहपुरा| शासकीय उचित मूल्य दुकान पड़रिया कला के एक हितग्राही द्वारा मई माह में प्राप्त चावल के संबंध में शिकायत की गई थी जिसकी सूचना के बाद अनुविभागीय अधिकारी राजस्व काजल जावला ने तत्काल कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी जयंत असराटी को मौके पर भेज पूरी जांच करने के सबंध में आदेशित किया था जिसके बाद कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी जयंत असराटी द्वारा दिनांक 24/5 /2022 को ग्राम पड़रिया कला पहुंच कर जांच की गई। शिकायतकर्ता के घर में उपस्थित सदस्यों की उपस्थिति में शासकीय उचित मूल्य दुकान पड़रिया कला से प्राप्त मई माह के चावल को देखा गया तथा सैंपल लिए गए। घर में उपस्थित शिकायत कर्ता के द्वारा बताया गया कि प्रतिमाह निर्धारित मात्रा में खाद्यान्न प्राप्त होता है परंतु मई माह में जो चावल प्राप्त हुआ है उसमें अल्प मात्रा में कुछ चावल के दाने सामान्य दानों से अधिक मोटाई के तथा कम वजन के दिखाई दे रहे हैं जिन्हें बीनकर अलग कर दिया गया है। शासकीय उचित मूल्य दुकान पड़रिया कला में भंडारित चावल के भी सैंपल लिए गए जिसमें अल्प मात्रा लगभग 0.5ः इस प्रकार के दाने पाए गए इसके पश्चात प्रदाय केंद्र एच एच वेयर हाउस शहपुरा मैं भंडारित चावल की जांच की गई जिसमें लगभग 0.5ः इस प्रकार के दाने पाए गए इस संबंध में गोदाम प्रभारी से बात की गई जिसमें उनके द्वारा बताया गया कि गोदाम में अंश राइस मिल वाहेगुरु राइस मिल नर्मदा राइस मिल आदि मिलो से गोदाम में चावल आता है। अंश इंडस्ट्रीज के प्रोपराइटर आशीष साहू को एचएस वेयरहाउस में बुलवाया गया जहां उनके द्वारा उस प्रकार के चावल के दाने को फोर्टीफाइड राइस होने की पुष्टि की गई तथा उनके द्वारा बताया गया कि शासन के निर्देशानुसार पीडीएस में वितरित होने वाले चावल में कुपोषण दूर करने हेतु एक निर्धारित मात्रा में फोर्टीफाइड चावल मिलाने के निर्देश प्राप्त हुए हैं इस संबंध में उनकी ट्रेनिंग भी हो चुकी है टेस्टिंग हेतु उनके द्वारा मिल में फोर्टीफाइड राइस मिलाया गया फोर्टीफाइड राइस मिल आने हेतु ब्लेंडिंग मशीन भी उनके द्वारा मिल में स्थापित कर ली गई है गोदाम प्रभारी द्वारा एक अन्य राइस मिल नर्मदा राइस मिल डिंडोरी का एक पत्र प्रस्तुत किया गया जिसमें उनके द्वारा भेजे गए चावल मैं फोर्टीफाइड राइस मिलाए जाने की पुष्टि की गई है इस संबंध में गोदाम प्रभारी तथा मिलर्स द्वारा नागरिक आपूर्ति निगम भोपाल मुख्यालय के पत्र प्रस्तुत किए गए नागरिक आपूर्ति निगम के निगवानी गोदाम डिंडोरी से फोर्टीफाइड राइस का सैंपल मंगवाया गया जिससे मिलान करने पर जांच के दौरान चावल में पाए गए दाने फोर्टीफाइड राइस के समान पाए गए । मामले की जानकारी मिलने के बाद कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी को मौके पर भेजा गया जिसके बाद जांच इस बात का पता चला की चावल घटिया किष्म का नहीं है बल्कि वह कुपोषण को दूर करने के लिए शासन के द्वारा चलाये गये योजना का हिस्सा है वह चावल के दाने फोर्टिफॅाईट चावल है जिसमें कई प्रकार के न्यूटिंस को मिलाकर बनाये गये है और एक अनुपात मंे इस चावल को मिलाकर सोसाईटियो में बटवाया जा रहा है वही इस सबंध में लोगो को जागरूक करने के लिए सभी सोसाईटिया में बैनर लगाये जावेगे। काजल जावला एसडीएम शहपुरा ।

administrator, bbp_keymaster

Related Articles